ऑनलाइन रेशम मार्ग को सक्रिय बनाता ई-कॉमर्स

2018-01-03 07:23:03
ऑनलाइन रेशम मार्ग को सक्रिय बनाता ई-कॉमर्स साल 2008 में आर्थिक संकट के बाद वैश्विक आर्थिक विकास मंदी रहा है। डिजिटल तकनीक के आधार पर नयी वाणिज्य बुनियादी संरचना —— ई-कॉमर्स विश्व में जल्दी ही लोकप्रिय होने लगा और “नयी अर्थव्यवस्था” के नक्शा का निरंतर विस्तार करने लगा। ई-कॉमर्स के उत्पन्न होने और विकास होने से मनुष्य के साझा व्यापार की बुनियादी शर्तों में सुधार हुआ। सीमापार ई-कॉर्मस का सहयोग निरंतर मज़बूत हो रहा है, जिससे न केवल विभिन्न देशों के बीच व्यापार और सुविधाजनक हो गया है, बल्कि स्थानीय लोगों को लाभ भी हुआ है। ऑनलाइन रेशम मार्ग चीन और “एक पट्टी एक मार्ग” से जूड़े विभिन्न देशों द्वारा इंटरनेट आपसी संपर्क, सूचनाओं के आदान-प्रदान को मज़बूत करने के आधार पर स्थापित “इंटरनेट प्लस” सूचना आर्थिक पट्टी है। ऑनलाइन रेशम मार्ग का निर्माण विभिन्न देशों, क्षेत्रों व लोगों के बीच डिजिटल घाटे को कम करने, डिजिटल लाभांश प्रदत्त करने में मददगार है। ई-कॉर्मस के विकास ने ऑनलाइन रेशम मार्ग में जीवन शक्ति फूंकी है, जबकि ऑनलाइन रेशम मार्ग का निर्माण करने के साथ-साथ इससे जूड़े देश इंटरनेट और ई-कॉर्मस में भी आगे प्रगतियां हासिल कर सकेंगे। साल 2016 में चीन में ऑनलाइन खुदरा बिक्री रकम 52 खरब चीनी युआन तक जा पहुंची, जो 2015 की तुलना में 26.2 प्रतिशत की वृद्धि देखने को मिली और सामाजिक उपभोक्ता वस्तुओं की कुल खुदरा बिक्री(Total Retail Sales of Consumer Goods)का 15.5 प्रतिशत था। साथ ही चीन में सामाजिक उपभोक्ता वस्तुओं की कुल खुदरा बिक्री की वृद्धि दर 2015 की तुलना में 10.4 प्रतिशत अधिक रही।  नेटीजनों का पैमाना : 2016 के दिसम्बर माह तक चीन में नेटीजनों की संख्या 73.1 करोड़ तक पहुंच गई और इंटरनेट की प्रवेश दर 53.2 प्रतिशत रही, जो विश्व के औसत स्तर से 3.1 प्रतिशत और औसत एशियाई स्तर से 7.6 प्रतिशत ज़्यादा रही। चीन में मोबाइल नेटीजनों की संख्या 69.5 करोड़ तक जा पहुंची, जो समूचे चीनी नेटीजनों की संख्या का 95.1 प्रतिशत रहा।

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी